Categories
Self Improvement

5 तरीके Self esteem kaise badhaye in 2021

Self esteem kya hai?

दोस्तों कई बार आपने यह सुना होगा कि अगर आप में self-esteem मौजूद है तो आप अपनी जिंदगी में कुछ भी कर सकते हैं.

हमें अक्सर self-esteem का मतलब समझने में  दुविधा होती है.

अगर आप अपने बारे में सकारात्मक चीजें सोचते हैं और उसी तरह से व्यवहार करते हैं तो आपके साथ हमेशा अच्छा होता है.

हम अक्सर यह चीज सुनते हैं कि हमें अपने आप से प्यार करना चाहिए और खुद का समर्थन खुद ही करना चाहिए.

अगर आप अपने आप से पूरी तरह से प्यार नहीं करते हैं तो आप दूसरों से भी प्यार करने में असफल होते हैं.

इन सब चीजों के लिए आपने self-esteem होने की आवश्यकता होती है क्योंकि इसी से एक खुशहाल जीवन बनता है.

यहीं से सफलता की शुरुआत होती है और आप अपने जीवन में आगे बढ़ते हैं.

आइए आज हम समझते हैं self-esteem से जुड़े हर चीजों के बारे में और इन चीजों का जवाब ढूंढते हैं, जैसे कि:

  • सेल्फ एस्टीम क्या होता है?
  • सेल्फ एस्टीम के क्या फायदे और नुकसान होते हैं?
  • Self esteem किन चीजों से बनता है?
  • सेल्फ esteem क्यूँ ज़रूरी होता है?
  • Self-esteem कैसे बढ़ाए? आदि

Self-esteem क्या होता है? (What is self esteem in Hindi?)

दोस्तों esteem का मतलब होता है खुद की इज्जत करना और प्रशंसा करना.

Self का मतलब होता है स्वयं या अपने लिए.

इसीलिए दोस्तों self-esteem का मतलब होता है खुद की इज्जत करना या प्रशंसा करना.

सेल्फ एस्टीम बताता है कि आप अपने बारे में क्या सोचते हैं और  खुद को कैसे तौलते हैं.

सेल्फ एस्टीम के क्या कारण होते हैं? (Factors affecting self esteem?)

Sl NoFactors affecting self esteem in Hindi
1 सेल्फ कॉन्फिडेंस (Self confidence)
2 एक सिक्योरिटी की भावना होना (Sense of security)
3 अपनी खुद की पहचान (Identity)
4 अपनेपन की भावना होना (Sense of belongingness)
5 प्रतिस्पर्धा की भावना रखना (Feeling of competence)
सेल्फ एस्टीम के क्या कारण होते हैं?

Self-esteem के कई कारण होते हैं जैसे कि:

1. सेल्फ कॉन्फिडेंस (Self confidence)

 अगर आप में सेल्फ कॉन्फिडेंस मौजूद है तो आप अपने आप को मूल्यवान समझते हैं.

 इससे हमेशा आप को शक्ति मिलती है कि आप किसी भी परिस्थिति से जीत सके.

अपने अंदर सेल्फ कॉन्फिडेंस का होना बहुत जरूरी होता है क्योंकि  यह हमें हमेशा तैयार रखती है आने वाली चुनौतियों के लिए.

2. एक सिक्योरिटी की भावना होना (Sense of security)

 दोस्तों अगर आपको अपने अंदर एक सिक्योरिटी की भावना महसूस होती है तो आपको अपने अंदर self-esteem दिखाई देता है.

 ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अगर आप खुद को सुरक्षित पाते हैं तो आप में बाकी चीजें अपने आप ठीक होने लगती है.

 आपके मन में डर कम होने लगता है और आपके काम में जोश बढ़ने लगता है.

3. अपनी खुद की पहचान होना (Identity)

 अगर आप में खुद के लिए पहचान होती है तो आप दूसरों के मन में अपनी छवि बना सकते हैं.

 जिंदगी में इंसान हर दिन इसीलिए काम करता है ताकि वह समाज में अपनी कोई पहचान बना सके.

 जिस दिन इंसान अपनी आपकी पहचान दूसरों के मन में छोड़ जाता है उस दिन उसकी self-esteem  बढ़ने लगती है.

4. अपनेपन की भावना होना (Sense of belongingness)

अगर इंसान अपने आप को अकेला पाता है तो उसके मन में अपने लिए हमेशा खुद की कीमत नहीं जान पाता.

 इंसान  जिस दिन अपने अंदर अपनेपन की भावना पाता है वह सफलता की और अपने आप आगे बढ़ता है.

 अपनेपन की भावना होना बहुत जरूरी होता है क्योंकि इससे इंसान अपनी वजूद धीरे-धीरे बना पाता है.

वह यह जान पाता है कि उसे क्या चाहिए और यह किस्से मिल सकता है.

अन्य जानकारी : अकेलापन एक ऐसी चीज़ होती है जो अपनेपन को मार सकती है. 

यहाँ पर क्लिक करे और जाने की अकेलापन क्या होता है और कैसे दूर किया जाए. 

5. प्रतिस्पर्धा की भावना रखना (Feeling of competence)

 जब आपके मन में प्रतिस्पर्धा की भावना होती है तो आप हमेशा हर चुनौती के लिए तैयार रहते हैं.

 यह भावना इंसान को जिंदगी में हमेशा आगे बढ़ने के लिए मदद करता है और जिंदगी की कई सीख सिखा जाता है.

अगर आपके मन में प्रतिस्पर्धा की भावना यानी की competitive spirit मौजूद है तो आप जिंदगी में कुछ भी करने के लिए तैयार रहते है.

Self-esteem क्यों जरूरी होती है? (Importance of self esteem in Hindi?)

Sl NoImportance of self esteem in Hindi
1Self-esteem ज़रूरी होता है हमारी skills बढ़ने के लिए (Development of skill set)
2Self-esteem की वजह से हमारेसंबंधों अच्छे बनते है (Healthy impact on relationships)
3 हम अपने जीवन में सही अपेक्षा कर पाते हैं (Realistic expectation in life)
4Self-esteem के होने से हम अपनी जरूरतों को समझ पाते हैं और उन्हें व्यक्त कर पाते हैं (Understanding needs and expressing them)
Self-esteem क्यों जरूरी होती है?

दोस्तों self-esteem का होना बहुत जरूरी होता है क्योंकि इससे हमारी जिंदगी में कई काम आसान हो जाता है.

Self-esteem के होने से हमारे अंदर यह चीजें पाई जाती है,  जैसे कि:

1. Self-esteem ज़रूरी होता है हमारी skills बढ़ने के लिए (Development of skill set)

 अगर हमारे अंदर self-esteem बना हुआ होता है तो हम अपने स्किल्स पर पूरी तरह से काम कर पाते हैं.

 हमें अपने skills की पूरी समझ होती है और हम अपनी जिंदगी में आगे बढ़ पाते है.

2. Self-esteem की वजह से हमारेसंबंधों अच्छे बनते है (Healthy impact on relationships)

अगर हमारे अंदर self-esteem बना हुआ होता है तो हम दूसरों के साथ अच्छे संबंध बना पाते हैं.

इसका मुख्य कारण यह होता है कि हम अपने आप से ही खुश रहते हैं .

इसकी वजह से हम दूसरे संबंध अच्छे से निभा पाते हैं.

3. हम अपने जीवन में सही अपेक्षा कर पाते हैं (Realistic expectation in life)

Self-esteem के होने से आप अपनी जिंदगी में सही उम्मीद लगाते हैं और उचित अपेक्षा बनाते हैं.

इससे आप अपनी जिंदगी की समझ अच्छी तरह से कर पाते हैं और आगे बढ़ पाते हैं.

4. Self-esteem के होने से हम अपनी जरूरतों को समझ पाते हैं और उन्हें व्यक्त कर पाते हैं (Understanding needs and expressing them)

Self esteem के होने से आप अपनी जरूरतों को अच्छी तरह से समझ पाते हैं और उन्हें व्यक्त कर पाते हैं.

 क्योंकि आपको पता होता है कि आप अपने आपको  कितनी अच्छी तरह से समझ पा रहे हैं.

 इससे आप अपनी जिंदगी में अपनी जरूरतों को अच्छी तरह से समझ पाते हैं.

 आप अपनी भावनाओं को भी सही तरीके से व्यक्त कर पाते हैं.

High Self-esteem के क्या फायदे होते हैं? (Benefits of high self esteem in Hindi?)

  1. Self-esteem के होने का सबसे पहला फायदा होता है हमारे अंदर सकारात्मक ऊर्जा का बनना और मानसिक तरीके से स्वस्थ रहना.
  2. सेल्फ एस्टीम होने का दूसरा फायदा होता है हम किसी भी परिस्थिति से जूझने के लिए तैयार रहते हैं और नकारात्मक चीजों को भी सही से परख पाते है.
  3. Self-esteem के होने का तीसरा फायदा है हम अन्यथा अपने ऊपर स्ट्रेस नहीं डालते हैं और जिंदगी में फोकस बनाए रख पाते है.
  4. Self-esteem के होने से हम अपनी जिंदगी में सही बदलाव ला पाते हैं जिससे हमें आगे बढ़ते रहने में मदद करती है.

Low self esteem के क्या नुकसान होते हैं? (Disadvantages of low self esteem in Hindi?)

  1. Low self esteem का सबसे बड़ा नुकसान होता है आप अपने criticism को अपने ऊपर हावी होने देते हैं. आप दूसरों की तकलीफों को अपने अंदर ले लेते हैं.
  2. Self-esteem के कम होने का दूसरा बड़ा नुकसान होता है आप जिंदगी के मुश्किल परिस्थितियों से जूझने में असफल होते हैं. आप अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख पाते हैं और इससे आपके अंदर stress बढ़ता है.
  3. Self-esteem के कम होने से आप डिप्रेशन के भी शिकार बन सकते हैं अगर यह आपके अंदर ज्यादा दिन रहता है.
  4. कम self-esteem होने की वजह से आप बुरी आदतों का भी शिकार हो जाते हैं जिससे आप जिंदगी में गलत रास्ते में चलने लगते हैं.

Self-esteem कैसे बढ़ाए? (How to improve self esteem in Hindi?)

NoSelf esteem कैसे बढ़ाये ?
1 जिंदगी में तारीफ को स्वीकार करें (Accept compliments in life)
2अपने अंदर नकारात्मक चीजों को भी सही मायने में देखें (See the negative side of life in right perspective)
3 अपने आप से प्यार जरूर करें ( Love yourself at first and accept flaws in you)
4 विचारों को  कहीं पर लिखिए (Note down your thoughts)
5 अपने ऊपर काम कीजिए (Work on yourself)
Self-esteem कैसे बढ़ाए?

दोस्तों self-esteem बढ़ाने में अभ्यास और समय की जरूरत होती है.

 आप इन चीजों की मदद से अपनी self esteem बढ़ा सकते हैं, जैसे की:

1. जिंदगी में तारीफ को स्वीकार करें (Accept compliments in life)

 एक रिसर्च के अनुसार यह पाया गया कि हम अक्सर अपनी जिंदगी में तारीफ स्वीकार नहीं करते हैं.

 ऐसा करने से हमारे अंदर अपने आप self-esteem कम होने लगता है.

 इसीलिए अपनी जिंदगी में अपने बारे में तारीफ स्वीकार जरूर करें और इसे अपने अंदर लेने की कोशिश करें.

2. अपने अंदर नकारात्मक चीजों को भी सही मायने में देखें (See the negative side of life in right perspective)

 दोस्तों आप अपनी जिंदगी में हो रहे नकारात्मक चीजों को सही मायने में देखने की कोशिश करें.

 जब आप अपनी जिंदगी के नकारात्मक चीजों को सही तरीके से देखते हैं तो इससे आपके अंदर अच्छे बदलाव आने शुरू होते हैं.

 इसीलिए कभी-कभी अपने आप को उचित समय दें और यह प्रश्न पूछे कि आप अपनी नकारात्मक चीजों से कैसे उभर सकते हैं.

 इससे आपके अंदर मोटिवेशन बनी रहेगी और काम करने की इच्छा भी आती रहेगी.

3. अपने आप से प्यार जरूर करें ( Love yourself at first and accept flaws in you)

दोस्तों अक्सर हम अपने आप से प्यार करना भूल जाते हैं.

 अगर आप अपने आप से प्यार नहीं करते हैं और अपने अंदर मौजूद कमियों को सही तरीके से समझते नहीं है तो आप में self-esteem कब बनना मुश्किल होता है.

 इसीलिए self-esteem के लिए आप अपने आप से प्यार करना सीखिए और अपनी कमियों को पहचानिए.

4. अपने विचारों को  कहीं पर लिखिए (Note down your thoughts)

 दोस्तों अपने विचारों पर कहीं लिखने पर आप अपने अंदर चल रही भावनाओं को समझ सकते हैं.

 इससे आपके मन में क्लेरिटी बनती है और आपको समझ में आती है कि आप किस दिशा में सोच रहे हैं.

 हर दिन आप अपने विचारों को किसी डायरी या जर्नल में लिखने का अभ्यास करे.

सम्बंधित जानकारी: To Do लिस्ट क्या होता है?

5. अपने ऊपर काम कीजिए (Work on yourself)

 दोस्तों जब आप अपने ऊपर काम करना शुरू करते हैं आपकी जिंदगी में बदलाव आने लगते हैं.

 आप अपने स्किल्स को अच्छी तरह से समझ पाते हैं और यह जान पाते हैं कि आपको किस दिशा में काम करना पड़ेगा.

 इसीलिए आप अपने ऊपर काम करना शुरू कीजिए.

 इसकी मदद से आप अपनी जिंदगी में हमेशा प्रगति और उन्नति की दिशा में आगे बढ़ते रहेंगे.

 इसके चलते आपके अंदर self-esteem अपने आप बनने लगेगी.

सारांश

आइए एक नजर डालते हैं हमने सेल्फ esteem के बारे में क्या पढ़ा:

  • Self-esteem का मतलब होता है खुद की इज्जत करना या प्रशंसा करना.
  • Self-esteem के कई कारण होते हैं जैसे कि सेल्फ कॉन्फिडेंस, सिक्योरिटी की भावना होना, खुद की पहचान होना, अपनेपन की भावना होना आदि.
  • सेल्फ esteem ज़रूरी होता है क्यूंकि इससे हम अपनी स्किल्स बढ़ा सकते है, अच्छे सम्बन्ध बना सकते है, ज़रूरतों कको समझ सकते है आदि.
  • Self esteem के होने से हम फोकस रख पाते है, सकारात्मक उर्जा बना पाते है और मानसिक रूप से स्वस्थ रह पाते है.
  • सेल्फ esteem के न होने से हमारे अंदर stress बढ़ता है, बुरी आदतों का शिकार होते है और depression ला भी शिकार हो सकते है.
  • Self esteem बढ़ाने के लिए हमें अपने आपसे प्यार करना होगा, अपनी खुदकी तारीफ स्वीकार करना होगा, अपने ऊपर काम करना होगा आदि.

आपकी बात (Your thoughts)

दोस्तों अगर आपको अपनी ऐसा कोई कि हमारे साथ share करना है जिससे दूसरों को motivation, inspiration तो हमारा platform Mokinys आपके लिए हमेशा मौजूद है.

हमसे संपर्क करने के लिए हमारे email id “mokinysc@gmail.com“ पे हमें email करें.

धनयबाद.

सबके साथ share करें.🙏

आपसे विनती (Request to you)

दोस्तों यहाँ तक हमारे साथ बने रहने के लिए शुक्रिया.🙏

आशा करता हूँ आपको self esteem kaise badhaye इसका जवाब मिल गया है.

आप अपनी बात हमारे साथ share करना न भूलियेगा निचे comments में.

और अगर आज इसे पढ़कर आपको कुछ जानने को मिला तो दूसरों के साथ share करना न भूलियेगा.

Sikhte रहिये aur सिखाते रहिये.

सबके साथ share करें ✌

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

By Sanat Biswal

नमस्कार दोस्तों!!🙏

मेरा नाम Sanat Biswal है. मैं एक qualified चार्टर्ड एकाउंटेंट (Chartered Accountant) हूं.

मुझे ब्लॉगिंग में गहरी दिलचस्पी है और मुझे नई चीजों के बारे में जानना बहुत पसंद है.

मुझे सामान्य रूप से personality development, life goals और technology के बारे में हिंदी में Mokinys पर लेख लिखना पसंद है।

मेरे बारे में अधिक जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published.