सकारात्मक सोच कैसे बनाए 10 असरदार तरीके in 2022

Sakaratmak soch kaise banaye?

सकारात्मक सोच (sakaratmak soch) रखने वाला इंसान अपनी ज़िन्दगी में हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा सबको देता है.

अगर आपकी सकारात्मक सोच (sakaratmak soch) रहती है तो आपको हमेशा हर चीज़ में मौके दिखेंगे. आप्से लोग जुड़ने की हमेशा कोशिश करेंगे.

नमस्कार दोस्तों🙏…कैसे हैं आप सब?

आज हम जवाब ढूंढेंगे कि कैसे आप सकारात्मक सोच बनाये रखे अपने जीवन में?

इससे पहले कि हम आगे बढ़ें में आपसे अपने जीवन की एक छोटी सी experience के बारे में बताना चाहूंगा.

दोस्तों ये बात है November 2019 की. तब मेरी Chartered Accountancy की परीक्षा नज़्दीक थी.

मेरे पास सिर्फ 2 महीने थे 4 papers की तयारी करने के लिए. सब इस टाइम पे 1-2 बार पढ़के revision करते हैं.

मेरी इस वक़्त पे क्लासेज चल रही थी… 😪😪 पर मैंने इन 2 महीनो में जितना सकारात्मक महसूस किया है ऐसा कभी महसूस नहीं किया है.

एक वक़्त ऐसा आया जब मुझे इतनी पॉजिटिव सोच से डर लगने लगा था.

इस अनुभब को शब्दों में बताना मुश्किल है, पर मैन एग्जाम बहुत कॉन्फिडेंस के साथ दिया.

और जब results आया मेरे बहुत अच्छे numbers आये हैं और में पास हो गया.

इस अनुभब से मुझे positive / सकारात्मक सोच के बारे में गहरा अनुभब हुआ पहली बार.

सकारात्मक सोच कैसे बनाये ? 

दोस्तों कुछ भी बताने से पहले म आपको सकारात्मक सोच के बारे में 2 चीज़ बताना चाहूंगा:

  • आप हमेशा पॉजिटिव सोच (सकारात्मक सोच) बनाये नहीं रख सकते हैं.
  • ज्यादा पॉजिटिव सोच भी हानिकारक होता है. इसीलिए नेगेटिव सोच थोड़ी मात्रा में जरूरी है.

सकारात्मक सोच बनाने के लिए आपको इन 10 चीज़ों का ध्यान रखना होगा, जो है:

Noसकारात्मक सोच कैसे बनाये?
1अपने जीवन में patience को बढ़ाइए
2ज़िन्दगी में सही सवाल पूछना बंद मत कीजिये
3अपने आपको सकारात्मक लोगो से घेरे रखिये
4Exercise किया करे सकारात्मक सोच बनाने के लिए
5सुबह जल्दी उठा करिये सकारात्मक सोच बनाने के लिए
6अपने आपको motivated रखिये sakaratmak soch बनाने ले लिए
7लोगों की जीवनी जरूर पढ़िए
8किसी काम को करने से पहले अच्छा सोचिये
9अपने आप पे ध्यान दीजिए
10सही ऐटिटूड रखिये एक sakaratmak soch बनाने के लिए
सकारात्मक सोच कैसे बनाये?

1.      अपने जीवन में patience को बढ़ाइए

ज़िन्दगी में कुछ पाने के लिए उसे उचित समय नहीं देते हैं तो हमें अक्सर नकारात्मक महसूस होता है.

इसका सबसे बढ़िया उदाहरण होता है ,”जब हम कोई नयी skill सीखते हैं पहली बार”. या फिर हम “पहली बार English में बात करना शुरू करते हैं”.

हमारा mann हमेशा हर चीज़ को तुरंत पाने की कोशिश में रहता है. इससे दो चीज़ें हो सकती है.

  • जब वो चीज़ जल्दी मिल गयी, हमें ख़ुशी होती है और उसे फिर से पाने के लिए सकारात्मक होते हैं.
  • अगर हमें वो चीज़ तुरंत नहीं मिलती है, हमें नकारात्मक मेहसूस होती है.

हमें ये समझना होगा की हर चीज़ का ज़िन्दगी में एक वक़्त होता है. किसी को जल्दी मिलता है और किसीको देर से.

लेकिन जो इंसान एक सकारात्मक नजरिया रखता है उसे हमेशा वो चीज़ मिलती है.

2.      ज़िन्दगी में सही सवाल पूछना बंद मत कीजिये

आपको ज़िंदगी में सही सवाल पूछना होगा जब भी आप किसी चीज़ के बारे में सोचते हैं.

सही सवाल का मलतब हम इस उदहारण से समझते हैं.

अगर आपको कार चलाना सीखना है और आप ये सवाल पूछ रहे हैं,” मुझे कार चलाना क्यों नहीं आता”?

इससे आपके मन्न में आटोमेटिक नकारात्मक सोच पैदा हो जाती है.

सकारात्मक सवाल ऐसा होगा जैसे की,”मुझे कार चलाना आ तो जाएगा. लेकिन कैसे आएगा इसका जवाब ढूँढना है”?

इसीलिए कहा जाता है की सकरात्मक बोली से आपके अंदर सकारात्मक चिंता पैदा होती है.

3.      अपने आपको सकारात्मक लोगो से घेरे रखिये

कहा जाता है की आप अपने 5 करीबी दोस्तों की एवरेज होते हो.

इसका मतलब ये है 5 दोस्त जिनसे आप हर रोज़ बातें करते हैं आप उनके गुण अपने अंदर ले आते हो.

इसीलिए अपने देखा होगा की अगर आपके दोस्त सकारात्मक सोच रखते हैं तो आप भी उनकी तरह सकारात्मक सोचते हैं.

4. Exercise किया करे सकारात्मक सोच बनाने के लिए

दोस्तों आप हमेशा exercise किया करे.

इसके कई फायदे हैं, पर इससे आपके शरीर में endorphins बनता है जिससे आपके अंदर सकारात्मकता पैदा होती है.

इसका सीधा असर आपकी सोच पर भी पड़ता है जो धीरे धीरे सकारात्मकता की और बढ़ता है.

इसीकिये रोजाना एक्सरसाइज ज़रूर किया करिये चाहे वो 15-30 mins तक का क्यों न हो.

5. सुबह जल्दी उठा करिये सकारात्मक सोच बनाने के लिए

दोस्तों सुबह जल्दी उठने में एक अजीब सी ख़ुशी होती है.

जब आप अपने दिन की शुरुआत जल्दी करते हैं तो आपको आनंद मिलता है. इससे आपके बाकी दिन के काम करने में भी आपको मोटिवेशन मिलता है.

जल्दी उठके अपने सबसे कठिन काम को करते ही आपमें पॉजिटिव सोच की चिंताधारा बेहनी चालू होती है.

आप ये कोशिश करके देख सकते हैं.

6.      अपने आपको motivated रखिये sakaratmak soch बनाने ले लिए

दोस्तों मोटिवेशन एक ऐसी चीज़ है जो आएगी और जाएगी.

पर आपको मोटिवेशन बनाए रखने के लिए अपने काम को सही नज़रिए से देखना होगा. कई दिन ऐसे होंगे जब आपको काम करने का मनन नहीं करेगा.

लेकिन आपको इन्ही दिनों में अपने काम को करते रहना है. हमारा मैं सबसे पहले नकारात्मक सोच को आसानी से अपनाता है.

इसीलिए कई बार हमें मोटिवेशन की कमी महसूस होती है. लेकिन अगर आप इन्ही मुश्किल दिनों में भी अपने काम को करते रहेंगे तो आपमें सकारात्मक ऊर्जा बनी रहेगी.

7.      लोगों की जीवनी जरूर पढ़िए

दूसरे सक्सेसफुल लोगो के बारे में ज़रूर पढ़ा करिये. इससे आपको बहुत कुछ सिखने को मिलता है.

उनके जीवन के बारे में जब आप अध्ययन करते हैं तो आपके अंदर एक उमंग पैदा होती है.

आपको भी लगने लगता है की आप अपने जीवन में बहुत कुछ अभी कर सकते हैं.

इससे आपके अंदर एक सकारात्मक सोच बनती है.

8.      किसी काम को करने से पहले अच्छा सोचिये

हर एक काम को करने से पहले आप उसके बारे में अच्छा सोचिये. जितना आप किसी चीज़ के बारे में अच्छी सोच रखेंगे उतना आपको सकारात्मक महसूस होगा.

एक नकारात्मक सोच के साथ कोई चीज़ को करने से आपको अपने परिणाम न मिले.

9.      अपने आप पे ध्यान दीजिए

ये अक्सर होता है हम अपने आप्पे ध्यान नहीं देते हैं जब बात आती है सेल्फ-केयर की.

हम अक्सर अपने आप पर ध्यान नहीं देते हैं जब बात आती है सेल्फ-केयर की.

खुदको हर दिन 15-20 min ज़रूर दीजिए और अपनी पर्सनालिटी पर भी. जब आप अपने आप को प्रायोरिटी देंगे तब आपको अपने अंदर एक पाजिटिविटी महसूस होगी.

इससे आपके अन्दर धीरे धीरे एक सकारात्मक सोच बनेगी.

10. सही ऐटिटूड रखिये एक sakaratmak soch बनाने के लिए

अपने अंदर एक सही ऐटिटूड का होना बहुत ज़रूरी होता है.

अगर अपने काम को सही अंजाम तक लेके जाना है तो आपको एक सही ऐटिटूड का रखना ज़रूरी होता है.

एक सही ऐटिटूड तभी बनता है जब आप हर चीज़ में कम्प्लेन करना बंद करेंगे और अपने काम से प्यार करेंगे.

आइये नज़र डालते हैं कुछ सवालों पर जो अक्सर पूछे जाते हैं:

आपसे जरूरी बात!!!👇

दोस्तों में आशा करता हूं कि आपको यह पढ़कर थोड़ी मदद जरूर मिली होगी.

दोस्तों मैंने 7 साल में चार्टर्ड अकाउंटेंसी की परीक्षा पास की है जो कि भारत का  एक सबसे मुश्किल कोर्स माना जाता है.

 इस कोर्स  मैं 7 सालों तक बने रहने के लिए कड़ी मेहनत, लगन और एक सही Sakaratmak Soch की आवश्यकता पड़ी थी.

 इसीलिए मुझसे बेहतर इस चीज को कोई नहीं बता सकता कि Sakaratmak Soch जिंदगी में कितनी जरूरी होती है.

अगर आप मुझसे इस विषय पर  किसी भी प्रकार  का मदद  चाहते हैं तो नीचे दिए गए FORM को भर ले ताकि मैं आपसे संपर्क कर सकूं.

इस FORM में दी गई जानकारी  सिर्फ आपके और मेरे बीच रहेगी. 

धन्यवाद🙏

सवाल जवाब

1. Sakaratmak soch का क्या महत्तव होता है?

सकारात्मक सोच से इंसान कई चीज़ों का मालिक होता है:

  1. एक सही
  2. उसके पास एक स्वस्थ्य शरीर होता है.
  3. उसे एक सही सोच मिलती है जीवन में कुछ करने के लिए.
  4. सकारात्मक सोच से हमें कॉन्फिडेंस मिलता है और हमारी बुद्धि (इंटेलिजेंस) का भी विकास होता है.
  5. अच्छी सकारात्मक सोच की मदद से आपको stress कम महसूस होता है.

2. Sakaratmak soch कैसे दूर करे?

Sakaratmak soch दूर करने के लिए आप इन 5 चीज़ों का पालन करे:

  1. अपने शरीर पर ध्यान दे. इसके लिए आप हर दिन एक्सरसाइज करे जिससे आपके अन्दर स्पुर्थी और उमंग पैदा होगी.
  2. एक सही ऐटिटूड रखें किसी भी चीज़ के लिए.
  3. कोई नयी मुश्किल परिस्थितियों से घबराएं.
  4. अपने आपसे सकारात्मक सवाल पूछे और अपने आप्पे विश्वास बनाये रखें.
  5. अपनी मनपसंद चीज़ें करने के लिए वक्त निकालें.

Leave a Comment