Self dependent kaise bane 5 नए tarike in 2021

Self dependent kaise bane?

नमस्कार दोस्तों🙏…कैसे हें आप सब?

दोस्तों आज के तारीख में आत्म निर्भर बनना सबसे ज़रूरी चीज़ हो गया है.

हर इंसान अपने दम पे खड़ा होना चाहता है और इसीलिए अपने हिसाब से वो काम करना चाहता है.

लेकिन आत्म निर्भर बन पाना इतनी आसान चीज़ नहीं होती है जैसा हम सोचते हें.

हम जब तक अपनी पढाई कर रहे होते हें तब तक अपने माता पिता के ऊपर निर्भर रहते हें.

इसकी वजह होती है हमें ज़िन्दगी में kaise अपने पैरों पे खड़ा होना है उसकी समझ नहीं होती है.

इसे पाने में हमें वक़्त लगता है जिसकी वजह से हम अपने जीवन में धीमी गति से आगे बढ़ते रहते हें.

Self dependent का मतलब अगर हम समझें तो इसके सोचने के कई दायरे हो सकते हें.

आईये हम self dependency के बारे में गहराई से चिंतन करें.

Self dependent ka kya matlab hai | Atma nirbhar ka matlab

दोस्तों self dependent का मतलब हम कई तरीके से सोच सकते हें.

Self dependent का मतलब होता है,” अपने आप पे निर्भर रहना ज़िन्दगी में ”.

इसको अगर हम दुसरे तरीके से देखें तो इसका मतलब होता है की हम अपने पास जो चीज़ें हें उसपे निर्भर बने रहना.

हमें बच्चों को self dependent बनना बचपन से सिखाना ज़रूरी है.

यह इसीलिए ज़रूरी है क्यूंकि इससे वो अपनी ज़िन्दगी के फैसले अपने दम पे ले सकेंगे.

Self dependence se kya fayda hai | Benefits of self dependence in Hindi

दोस्तों self dependent बनने के कई फायदे हें ज़िन्दगी में.

आईये self dependent बनने के फायदों को एक बार ध्यान से देखते हें:

1.      Self-dependent बनने का सबसे बड़ा फायदा यह है की आप self confident इंसान बनते हो

दोस्तों जब आप एक self dependent इंसान बनते हो तो अपमे एक अलग self confidence झलकता है.

इसकी वजह होती है आपमें अपनी काबिलियत पहचानने की क्षमता आ जाती है.

आप अपने काबिलियत पे भरोसा करने लगते हो.

एक self dependent इंसान आपको हमेशा self confident नज़र दिखाई देगा.

इनसे आपको प्रेरणा मिलती है और उमंग का एहसास भी होता है.

आपको अपने खुद के वजूद का एहसास भी होता है.

यह आपको वक़्त के साथ साथ पता चलता है जब आप लगातार मेहनत करते हो.

हमें अपने ज़िन्दगी के goals पर लगातार काम करते रहना चाहिए जब तक हमें अपने goals हासिल न हो जाएँ.

2.      Self-dependent इंसान किसी और पे निर्भर नहीं होते हें

दोस्तों self-dependent इंसान किसी और पे निर्भर नहीं रहते हें.

इन्हें अपनी कीमत खुद पता होती है और ये जानते है की इन्हें ज़िन्दगी में क्या चाहिए.

जब ये अपनी ज़िम्मेदारी खुद उठाते हें तो इससे परिवार वालों पे बोझ नहीं बढ़ती है.

यही कारण होता है की ये सभी के लिए खुशियाँ लेके आती है.

3.      Self-dependence बनने की वजह से आप सभी के लिए asset बन जाते हें

दोस्तों जब आप self-dependent बनते हें तो आप दूसरों के लिए एक asset के रूप में खड़े होते हें.

Asset बनने का मतलब होता है किसी और के लिए बोझ न बनना.

आप अपने जीवन में खुद अपनी income बनाने लगते हो.

इससे बड़ा फायदा आपको self-dependency से नहीं मिल सकता है.

4.      Self-dependence बनने की वजह से आपकी reputation बढ़ती है

दोस्तों जब आप self dependent होते हें तो आपकी reputation बहुत तेज़ी से बढ़ती है.

यह इसीलिए होता है क्यूंकि आपको अपने personal और professional life में अपने वजूद बनाने में बहुत सहायता मिलती है.

यही कारण होता है की आपकी लोग इज्ज़त करते हें चाहे वो आपके काम में हो या आपके निजी ज़िन्दगी में हो.

Reputation आपकी सिर्फ पैसों से नहीं बल्कि खुद की ज़िम्मेदारी लेने से भी बनती है.

5.      Self-dependence के बनते ही आपको अपने जीवन में Financial freedom नज़र आती है

दोस्तों ये सबसे बड़ा फायदा होता है जो self-dependence का सबसे बड़ा फायदा होता है.

जब आप self-dependent बन जाते हें तो आपको अपनी ज़िन्दगी में financial freedom मिल जाती है.

 Financial freedom का मतलब होता है की आपको आपका खुदका दायरा पता होता है.

ये सिर्फ आपके ऊपर निर्भर करता है की आप कितने सही तरीके अपने business के लिए फैसला ले पाते हें.

6.      Self-dependence बनने की वजह से आप शारीरिक और मानसिक रूप से सक्षम बन जाते हें.

Self-dependence बनने की वजह से आप शारीरिक और मानसिक रूप से सक्षम बन जाते हें.

आपको एक अलग तरीके का आज़ादी  महसूस होती है.

इसकी सबसे बड़ी वजह होती है आपके दिल में चल रही एक भावना.

ये आपको बताती है की आप किसी चीज़ के काबिल हो.

7.      Self –dependence बनने की वजह से आपकी creativity और innovation बढ़ती है

दोस्तों जब आप self dependent होते हें तो आपमें एक creativity और innovation बढ़ती है.

जब आप self dependent बनते हें तो आपमें कई innovative ideas आते हें दिमाग में जो आपको ताकतवर बनाते हें.

8.      Self-dependent बनने की वजह से आपको जीवन प्रगति दिखाई देती है

दोस्तों self dependent बनने की वजह से आप दूसरों के भरोसे नहीं रहते हें.

इसकी वजह से आपको अपने जीवन में प्रगति नज़र आती है.

आपकी प्रगति आपको जीवन में आपको आगे बढ़ने में हमेशा मददगार साबित होती है.

यह इसीलिए होता है क्यूंकि इसकी वजह से आप गिरते पड़ते आगे बढ़ना सीखते हो.

Self-dependent kaise bane | Atma nirbhar kaise bane

दोस्तों self dependent बनने के लिए कुछ चीज़ों का ध्यान रखना है,जैसे की:

1.      Self dependence banane के लिए आप सबसे पहले आप अपने आपको स्वीकार करें

दोस्तों self dependent इंसान बनने के लिए आपको सबसे पहले आपने आपको स्वीकार करना होगा.

इसका मतलब ये है की आपको ये मन्ना होगा की आपको अपने अन्दर झांकना होगा.

आपको ये देखना होगा की आपके अन्दर क्या खूबी मौजूद है जिसपे आप काम कर सकते हें.

सबसे पहले ये पहचानिए की आपके अन्दर क्या ताकत मौजूद है और क्या खामियां मौजूद है.

इसके चलते ये मत भूलिए की आपने अपने ज़िन्दगी में क्या हासिल किया है और क्या खोया है.

ये बहुत ज़रूरी होता है आप अपने आपको निचा मत दिखाईये.

ये समझिये की आप kaise अपनी ज़िन्दगी में आगे बढ़ सकते हें.

2.      Self dependence बढ़ाने के लिए आप अपने अंदर आत्म विश्वास भरिये

दोस्तों self-dependence आपके लिए एक ऐसा हथ्यार है जिस्से आप अपने अन्दरself-confident महसूस कर सकते हें.

इसकी बहुत बड़ी भूमिका है क्यूंकि जीवन में ऐसा वक़्त आएगा जब आपको दूसरों से तारीफ़ या वाह वाई नहीं मिलेगी.

लेकिन यही वक़्त होता है जब आपको अपने अन्दर self dependence बनाए रखना ज़रूरी है.

Self-dependence के होने से आपको अपने अंदर एक अलग confidence मिलता है जिसकी हमेशा से आपको तलाश थी.

3.      Self dependence बढ़ाने के लिए आप अपने skills को बढाईये

दोस्तों आप तब तक self dependent नहीं बनेंगे जब टाक अपने skills पे काम नहीं करेंगे.

आपके skills आपको ज़िन्दगी में goals बनाने में मदद करती है और आपको आए बढ़ते रहने के लिए प्रेरणा देती है.

यह बहुत ज़रूरी होता है की आप अपने ऊपर काम करते रहें ताकि वक़्त आने पर आपको दूसरों पे निर्भर होने की आवशकता नहीं होगी.

इसीलिए अपने skills पर हमेशा काम करते रहना ज़रूरी होता है.

4.      Self dependence बनने के लिए आपको अपनी sehat का ख्याल रखना होगा

दोस्तों सबसे पहली चीज़ जो आपको ध्यन रखनी है वो है अपनी sehat का.

अगर आपकी sehat ठीक नहीं है तो आपको किसी भी काम करने में मन नहीं लगेगा.

दोस्तों अंग्रेजी में एक कहावत है,” A healthy mind resides in a healthy body”.

ये बात हमेशा सच होती है क्यूंकि अगर आपकी सेहत बिगड़ी हुई है तो आपको कुछ करने का मन नहीं करेगा.

इसीलिए सही sehat आपके लिए बहुत माइने रखता है एक सफल ज़िन्दगी जीने के लिए.

5.      Self dependence बढ़ाने के लिए अपनी तुलना दूसरों से मत कीजिये

दोस्तों आप अपने आपमें बहुत ख़ास है.

आपको किसी और के साथ तुलना करके अपने आपको छोटा महसूस नहीं करना है.

हर इंसान के पास एक ख़ास हुनर होती है जिसे उसे पहचानने की ज़रुरत है.

यही talent एक दिन आपके लिए आपकी passion बनती है.

इसीलिए दोस्तों self dependent बनने के लिए आपको अपने passion को खोजने की ज़रुरत है.

इसके लिए आप दूसरों के साथ अपनी तुलना न करें.

सारांश

आईये देखते हें की self dependence kaise bane इसके 5 तरीके क्या है in Hindi:

  • Self dependence बढ़ाने के लिए आप अपने आपको स्वीकार करें.
  • अपने अन्दर आत्म-विश्वास का होना बहुत ज़रूरी है self dependence बढ़ाने के लिए.
  • अपने skills पे काम कीजिये self dependence बढ़ाने के लिए.
  • अपनी sehat का ध्यन रखिये self dependence बढ़ाने के लिए.
  • दूसरों के साथ अपनी तुलना मत कीजिये.

आपसे विनती

दोस्तों यहाँ तक हमारे साथ बने रहने के लिए शुक्रिया.🙏

आशा करता हूँ आपको self dependent kaise bane इसका जवाब मिल गया है.

आप अपनी बात हमारे साथ share करना न भूलियेगा निचे comments में.

Aur अगर आज इसे पढ़कर आपको कुछ जानने को मिला तो दूसरों के साथ share करना न भूलियेगा.

Sikhte रहिये aur सिखाते रहिये🙏

आपकी बात

दोस्तों अगर आपको अपनी ऐसा कोई किस्सा हमारे साथ share करना है जिससे दूसरों को motivation, inspiration तो हमारा platform Mokinys आपके लिए हमेशा मौजूद है.

हमसे संपर्क करने के लिए हमारे email id mokinysc@gmail.com पे हमें email करें.

धनयबाद.

सबके साथ share करें ✌

Leave a Comment