याद करने की शक्ति कैसे बढ़ाए 7 तरीके इन 2021

याद करने की शक्ति कैसे बढ़ाए?

दोस्तों इंसान को जो सबसे बड़ा तोहफा भगवान से मिला है वह है उसकी सोचने की शक्ति.

इस शक्ति के माध्यम से इंसान सभी प्राणियों की तुलना में सबसे ऊपर आता है.

जब इंसान सोचने लगता है तब उसकी यादों में कई चीजें बस जाती है.

इन यादों के सहारे इंसान यह समझता है कि उसे क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए.

किसी भी इंसान के दिमाग को पढ़ पाना संभव नहीं होता.

यह एक ऐसा कॉम्प्लिकेटेड चीज है जो समझना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होता है.

आज हम इसी विषय के इर्द-गिर्द चीजें समझेंगे, जैसे कि:

  • मेमोरी का मतलब क्या होता है?
  • याद करने की शक्ति कैसे बढ़ाए?
  • इंसान की मेमोरी कैसे काम करती है?

मेमोरी का क्या मतलब होता है?

दोस्तों मेमोरी का मतलब होता है, “ऐसी चीज़ जिसकी मदद से इंसान याद रख सकता है”.

एक इंसान की स्मरण शक्ति जितनी तेज़ होती है उतनी अच्छी उसकी चीज़ें समझने की ताकत होती है.

इसीलिए हर कोई इसी प्रयास में रहता है की कैसे मेमोरी को स्ट्रोंग किया जाए.

आईये इसके बारे में एक एक करके चीज़ें समझते है.

इंसान की मेमोरी कैसे काम करती है?

दोस्तों इंसान की मेमोरी बहुत ही complex होती है.

इंसान की मेमोरी तभी काम करती है जब कोई जानकारी काम करने लायक बनाया जाती है.

जिस प्रक्रिया में जरूरी जानकारी को बदलकर उसे काम करने लायक बनाया जाता है उस प्रक्रिया को कहते हैं encoding.

 जो encoding की प्रक्रिया खत्म होती है सब जानकारी हमारे दिमाग में store होती है.

 यही जानकारी को हम बाद में अपने काम के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं.

दोस्तों मेमोरी चार प्रकार के होते हैं:

1. सेंसरी मेमोरी

यह मेमोरी बस 3 सेकेंड तक हुए किसी हादसे या किसी अनुभव को याद करने में मदद करती है.

2. शोर्ट टर्म मेमोरी

 दोस्तों शॉर्ट टर्म मेमोरी का मतलब होता है से 30 seconds से लेकर कुछ दिनों तक होने वाले किसी मेमोरी का बनना.

3. वर्किंग मेमोरी

 वर्किंग मेमोरी का मतलब होता है कोई ऐसी मेमोरी जो हमारे काम के लिए जरूरी है.  

अक्सर इस मेमोरी में हमारी शॉर्ट टर्म मेमोरी जुड़ी हुई होती है जो हमें प्लानिंग और एग्जीक्यूशन करने में मदद करती है.

4. लोंग टर्म मेमोरी

दोस्तों यहां मेमरी कुछ दिनों से लेकर कई सालों तक हमारे अंदर बनी हुई रहती है.

अगर हमें असरदार तरीके से काम करना है तो हमारी कोशिश यही होनी चाहिए कि हमारी मेमोरी लॉन्ग टर्म मेमोरी बने.

सम्बंधित जानकारी

दोस्तों  जिंदगी में हम हमेशा कोई भी काम करने से पहले अच्छे से प्लानिंग करते हैं.

क्योंकि प्लानिंग एक ऐसी चीज होती है जो हमारे काम को खत्म करने में मदद करती है.

बिना कोई प्लान के अगर हम कोई काम को शुरू करते हैं तो हमें यह पता ही नहीं होता कि काम खत्म कैसे होगा.

अगर आपको  जिंदगी में प्लानिंग के बारे में गहराई से समझना है तो यहां👉 प्लानिंग कैसे करे पर जाएं.

आइए अब देखते हैं की याद रखने की शक्ति को कैसे बढ़ाया जा सकता है.

याद करने की शक्ति कैसे बढ़ाए 7 तरीकों से इन 2021?

दोस्तों हर इंसान में चीजों को याद रखने की अलग तरह की शक्ति होती है.

 कोई इंसान जब एक बार किसी चीज को पढ़ लेता है तो वह जिंदगी भर उसको नहीं भूलता है.

 ठीक उसी तरह कई बार किसी चीज को पढ़ने के बावजूद हमें वह चीज याद नहीं रहता है.

 आइए इस चीज का जवाब ढूंढें की याद करने की शक्ति को कैसे बढ़ाए 7 तरीकों से:

Noयाद करने की शक्ति कैसे बढ़ाए?
1सही नींद लीजिये
2अपना वजन सही रखें
3सचेतन बनिए
4शराब मत पिए
5मेमोरी गेम्स खेल सकते हैं
6कम चीनी वाले खाद्य खाया करें
7रोजाना एक्सरसाइज किया करें
याद करने की शक्ति कैसे बढ़ाए?

1. याद करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए सही नींद लीजिये

 दोस्तों जब हम थके हुए दिमाग में कोई चीज पढ़ने यह समझने की कोशिश करते हैं तो हमें वह चीज याद नहीं रहती.

  ठीक इसी तरह से जब हम उचित मात्रा में नींद नहीं लेते हैं तो हमारे शरीर और सोच पर इसका असर पड़ता है.

 अगर हम कम सोते हैं तो ज्यादा सोते हैं तो हमारी याद रखने की शक्ति पर भी इसका असर पड़ता है.

रात को सोने के कारण हमारा दिमाग हमारी यादों को अच्छी तरह से  समेत पाता है.

 इसके चलते हम अच्छी तरह से काम कर पाते हैं और हमारी याददाश्त ताजी होती है.

 इसीलिए हमें  रात को पूरी तरह से अच्छी नींद लेनी चाहिए.

2. अपना वजन सही रखें याद करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए

दोस्तों कई रिसर्च और कई तथ्यों से यह पता चलता है कि जिन लोगों में ज्यादा  वजन होता है उन लोगों में मेमोरी खोने की रिस्क ज्यादा होती है.

 अगर आपका शरीर सही वजन पर है तो आपका दिमाग और आपका शरीर दोनों चुस्त और तंदुरुस्त रहते हैं.

 ज्यादा वजन होने के कारण आपके शरीर इंसुलिन  को रोकता है जिससे आपके दिमाग पर असर पड़ता है.

 इस चीज के कारण आपकी मेमोरी कमजोर होती है और  इससे आपको Alzheimer रोग होने का भी संभावना होती है.

3. सचेतन बनिए अपनी याद करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए

दोस्तों जब आप जिंदगी में सचेतनता का पालन करते हैं तो आपको अपने वर्तमान स्थिति का अनुभव अच्छे तरीके से हो पाता है.

 आप अपने सांस लेने और छोड़ने पर ध्यान देंगे और यह एहसास करेंगे कि आप के आस पास क्या हो रहा है.

 इसे करते ही आपको यह पता चलेगा कि आपका ध्यान कहां पर है और यह क्यों भटक रहा है.

 तथ्यों के अनुसार यह पता चला है कि जो लोग  सचेतनता का ध्यान रखते हैं उन लोगों में उम्र के साथ-साथ याद करने की शक्ति कम होने के आसार कम दिखते हैं.

 इसीलिए सचेतनता का अभ्यास आप कर सकते हैं अपनी याद  करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए.

4. शराब मत पिए

दोस्तों शराब हमारी सेहत के लिए हानिकारक तो होता ही है.

 इसका सबसे बड़ा असर होता है हमारी याददाश्त पर.

 जो लोग जरूरत से ज्यादा शराब पीते हैं उन लोगों में याद करने की क्षमता कम दिखाई देती है.

 इसका कारण यह है कि शराब आपके दिमाग के उस हिस्से पर असर डालता है जहां पर आप की मेमोरी बनती है.

देखो कहते हैं हिप्पोकेंपस जो आप में मेमरी बनाने में मदद करती है.

 इसीलिए दोस्तों शराब न पिया करें ताकि आपकी मेमोरी कमजोर न पड़े.

5. ब्रेन की ताकत को बढ़ाने के लिए आप मेमोरी गेम्स खेल सकते हैं 

दोस्तों ऐसे कई खेल होते हैं जिन्हें खेल कर आप अपनी ब्रेन को ट्रेनिंग दे सकते हैं.

 ऐसे कुछ खेलों के नाम है Tetris, Crossword puzzle, word recall games आदि.

 दोस्तों इन खेलों की मदद से आप अपने याद करने की क्षमता बढ़ा सकते हैं.

6. कम चीनी वाले खाद्य खाया करें अपने याद करते शक्ति को बढ़ाने के लिए

 दोस्तों चीनी को कहा जाता है एक मीठा पाइजन.

 यानी कि यह स्वाद में तो मीठा होता है लेकिन हमारे सेहत और शरीर के लिए एक पॉइजन के समान होता है.

 चीनी से जुड़े कई ऐसे लोग हैं जैसे डायबिटीज और याद करने की क्षमता में कमी.

 जो लोग दिन में ऐसे खाद्य खाते हैं जिनमें ज्यादा चीनी होता है उनमें याद करने की क्षमता में कमी आती है.

 रिसर्च के माध्यम से यह पाया गया कि ज्यादा चीनी वाले खाद्य को खाने से लोगों में याद करने की क्षमता कम पाई गई है.

इसीलिए कम चीनी वाले खाद्य खाया करें अपनी सेहत और मेमोरी बनाने के लिए.

7. हर दिन रोजाना एक्सरसाइज किया करें

दोस्तों आपको नियमित रूप से हर दिन एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए.

 जो लोग रोजाना कम से कम 15 से 20 मिनट तक एक्सरसाइज करते हैं उनकी सेहत अच्छी रहती है.

 इसके साथ ही उनकी याद करने की शक्ति  भी बढ़ती है.

इसीलिए जो लोग नियमित रूप से रोजाना एक्सरसाइज करते हैं उनमें उम्र के साथ-साथ याद करने की शक्ति में बढ़ोतरी दिखाई देती है.

सारांश

आइए दोस्तों एक नजर डालते हैं की याद करने की शक्ति को कैसे बढ़ाए इन 7 तरीकों से:

  1. याद करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए सही नींद लीजिये.
  2. अपना वजन सही रखें याद करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए.
  3. सचेतन बनिए अपनी याद करने की शक्ति को बढ़ाने के लिए.
  4. शराब मत पिए.
  5. ब्रेन की ताकत को बढ़ाने के लिए आप मेमोरी गेम्स खेल सकते हैं.
  6. कम चीनी वाले खाद्य खाया करें अपने याद करते शक्ति को बढ़ाने के लिए.
  7. हर दिन रोजाना एक्सरसाइज किया करें.

आपकी बात

दोस्तों अगर आपको अपनी ऐसा कोई कि हमारे साथ share करना है जिससे दूसरों को motivation, inspiration तो हमारा platform Mokinys आपके लिए हमेशा मौजूद है.

हमसे संपर्क करने के लिए हमारे email id “mokinysc@gmail.com“ पे हमें email करें.

धनयबाद.

सबके साथ share करें.🙏

आपसे विनती

दोस्तों यहाँ तक हमारे साथ बने रहने के लिए शुक्रिया.🙏

आशा करता हूँ आपको याद करने की शक्ति इसका जवाब मिल गया है.

आप अपनी बात हमारे साथ share करना न भूलियेगा निचे comments में.

और अगर आज इसे पढ़कर आपको कुछ जानने को मिला तो दूसरों के साथ share करना न भूलियेगा.

Sikhte रहिये aur सिखाते रहिये.

सबके साथ share करें ✌

Leave a Comment

%d bloggers like this: